भविष्यवाणियों का आधार और प्रक्रिया:-


भविष्यवाणियों का आधार और प्रक्रिया

Click here to read this article in English

ब्रह्मांड में प्रत्येक ग्रह अर्थात सूर्य, चंद्रमा, बुध, शुक्र, मंगल, बृहस्पति, शनि और 2 छायादार ग्रह-राहु और केतु में से प्रत्येक ग्रह अपने स्वयं के अक्ष पर अनवरत गतिमान रहता है परिणामस्वरूप सूर्य के चारो ओर गति करता हुआ ब्रह्मांड में चारों अपने तय मार्ग पर गति करता है (सूर्य ब्रह्मांड का केंद्र है अतः केवल अपने अक्ष पर चारों ओर घूमता है।)। ग्रहों के साथ-साथ पृथ्वी की अनवरत गतिशीलता के कारण पृथ्वी के प्रत्येक भाग पर उपस्थित ग्रहों के किरण पुंजो के मिश्रण का अनुपात नियमित रूप से परिवर्तित होता रहता है। जिसके कारण सटीक भविष्यवाणी के लिए जन्म का सही विवरण बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है क्योंकि जन्म के समय, जन्म स्थान पर उपस्थित ग्रहों के किरण पुंजो* के मिश्रण अर्थात विशिष्ट ऊर्जाओं के मिश्रण के विवरण को व्यक्ति की कुंडली में विभिन्न चार्टों जैसे राशि कुंडली, चन्द्र कुंडली, नवमांश कुंडली, दशमांश कुंडली, ग्रहों का बल चार्ट आदि में गणनाओं के द्वारा संरचनात्मक रूप में सूत्रबद्ध कर दिया जाता है। जोकि संबन्धित व्यक्ति के संबंध में की जाने वाली प्रत्येक भविष्यवाणी का आधार होता है।

सटीक भविष्यवाणी की गणना करने के लिए आवश्यक 30-35 कारको(प्रश्न के लिए आवश्यक गणना के अनुसार भिन्नता आती है) में राशि कुंडली, चन्द्र कुंडली, नवमांश कुंडली, दशमांश कुंडली, भाव कुंडली, ग्रहों की वर्तमान स्थिति अर्थात गोचर, ग्रहों का बल चार्ट आदि गणना करने के लिए प्रारम्भिक कारक हैं जिनकी एक के बाद एक के क्रम में एक ही समय पर गणना की जाती है और यदि भविष्यवाणी केवल लग्न या चन्द्र राशि और गोचर या फिर अकेले राशि कुंडली की गणना के आधार पर की जाती है तो भविष्यवाणी की सटीकता लगभग नहीं के बराबर होती है जो आज की भोतिक जीवनशैली और प्रतिस्पर्धात्मक समय में उपयुक्त नहीं है।

*(किरण पुंजो से तात्पर्य संबन्धित ग्रह की शक्तिशाली ब्राहमंडीय ऊर्जा से है और ओर इसे दैनिक जीवन में एक रत्न की प्रयोज्यता से समझा जा सकता है जिसका कार्य संबन्धित ग्रह की किरण का अवशोषण कर धारण करने वाले व्यक्ति के शरीर को स्थानांतरित करना है ताकि ग्रह को व्यक्ति के शरीर के ऊर्जा मिश्रण के लिए संगत बनाया जा सके।)

Click here to read this article in English

Plan Your Future Precisely With Redefined Astrology

Find Us-